महासमुंद – जिले में एक युवक ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी है। पत्नी अपने बच्चे को मिर्गी की दवा पिला रही थी। इसी बात को लेकर पति ने मना किया कि बच्चे को दवा मत पिलाओ, फिर भी पत्नी नहीं मानी। इसके बाद पति ने वहीं रखी साड़ी से उसका गला घोंट दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई है। मामला बसना थाना क्षेत्र के इंदरपुर गांव का है। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।

इंदरपुर गांव में रहने वाले बलराम पटेल (25) को मिर्गी की बीमारी है। इसी वजह से उसका इलाज चल रहा है। वो रोज मिर्गी की बीमारी दूर करने की दवाई लेता है। उसके घर में भी उसकी दवाइयां रखी हुई थीं। रविवार को दोपहर 4 बजे बलराम पटेल का 7 महीने का बच्चा रोने लगा। बलराम की पत्नी जसवंतिन (23) उसे मिर्गी की ही दवा (सिरप) पिलाने लगी। यह देखकर बलराम ने मना किया, लेकिन जसवंतिन नहीं मानी। दोनों के बीच विवाद होने लगा। विवाद इतना बढ़ गया कि गुस्साए बलराम ने जसवंतिन की हत्या कर दी।

आरोपी पति ने पुलिस को बताया है कि उसने पत्नी का गला इसी खटिए पर लेटाकर घोंटा है।
आरोपी पति ने पुलिस को बताया है कि उसने पत्नी का गला इसी खटिए पर लेटाकर घोंटा है।

हत्या करने के बाद बलराम घर पर ही था। इस बीच रात को करीब 8 से 9 बजे के बीच उसके परिजन घर पर पहंचे। जहां जसवंतिन की लाश पड़ी हुई थी। यह देखकर परिजन हैरान रह गए, उन्होंने बलराम से पूरी बात की जानकारी ली। इसके बाद परिजनों ने ही बसना थाना में सोमवार को बलराम के खिलाफ शिकायत की। पुलिस ने बलराम को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस जब बलराम के घर पहुंची, तब बलराम जसवंतिन की लाश के ही बगल में बैठा हुआ था। बच्चा भी वहीं था। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है। पूछताछ में बलराम ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है। पुलिस अब मामले की जांच कर रही है।

By GiONews Team

Editor In Chief